मध्यप्रदेश में कृषि औद्योगिक करण की गति तेज
June 28, 2019 • एग्रो इंडिया

कार्यक्रम में प्रदेश के प्रमुख सचिव कृषि श्री अजीत केसरी एवं नीदरलैंड के एग्रीकल्चर काउंसलर श्री सीबे शूर।

नीदरलैण्ड सरकार का कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण पर सेमीनार

भोपाल। म.प्र. कृषि क्षेत्र में तेजी से विकास कर रहा है। यहां खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में निवेश की अपार संभावनाएं हैं। प्रदेश अब कृषि औद्योगिकरण की ओर अग्रसर है। कृषि उत्पादन और औद्योगिक तकनीक का परस्पर समन्वय मध्यप्रदेश और नीदरलैण्ड दोनों के लिए लाभप्रद होगा। यह विचार प्रदेश के मुख्य सचिव श्री सुधी रंजन मोहंती ने नीदरलैण्ड सरकार द्वारा मध्यप्रदेश में कृषि व खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में निवेश की संभावनाओं पर आयोजित सेमीनार में व्यक्त किए। इस मौके पर प्रमुख सचिव कृषि श्री अजीत केसरी नीदरलैण्ड के काउंसलर जनरल श्री गिडो टिलमैन, नाबार्ड के मुख्य महाप्रबंधक श्री एस.के.बंसल, कृषि एवं उद्यानिकी अधिकारी तथा निजी संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

प्रमुख सचिव कृषि श्री केसरी ने कहा कि किसान और उद्योग को जोडऩा होगा, तभी कृषकों की आमदनी बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि कृषक लघु उद्यमी योजना का लाभ ले सकते हैं।