ALL देश-दुनिया मध्य प्रदेश सफल किसान कंपनी समाचार ग्रामीण उद्द्योग साक्षात्कार बागवानी औषधीय फसलें पशुपालन
किसानों ने 17 गायों की कर दी हत्या...... फसल उजड़ने से परेशान थे किसान
October 18, 2019 • Ramswaroop Mantri

 ग्वालियर में फसलें उजाड़ने पर 17 गायों को 20 दिन कमरे में बंद रखा, भूख-प्यास से मौत

 

  • इन गायों को ग्रामीणों ने ऐसे कमरे में बंद कर दिया था, जिसमें सूरज की रोशनी तक नहीं जाती
  • करीब 20 दिनों तक गायें कमरे में बंद रहीं, इस दौरान न उन्हें चारा मिला न पानी

ग्वालियर. डबरा शहर से 10 किमी दूर ग्राम समूदन में कमरे में बंद 17 गायों की भूख-प्यास से तड़प तड़पकर हुई मौत ने मानवता को शर्मसार कर दिया है। इन गायों को ग्रामीणों ने ऐसे कमरे में बंद कर दिया था, जिसमें सूरज की रोशनी तक नहीं जाती। करीब 20 दिनों तक गायें कमरे में बंद रहीं। इस दौरान न उन्हें चारा मिला न पानी। जिस परिसर में यह कमरा है, वहां दो स्कूल, पंचायत भवन, जनमित्र केंद्र और आंगनबाड़ी केंद्र भी संचालित होते हैं। बुधवार को कमरे से बदबू आने पर सरपंच के पति बलवीर सिंह, पंचायत सचिव प्रदीप राणा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रेमाबाई को गायों की मौत की जानकारी मिल गई थी, लेकिन सभी ने मामले को दबाने का प्रयास किया।

इतना ही नहीं, रात में कमरे की दीवार को जेसीबी से तोड़कर चोरी छिपे आंगनबाड़ी केंद्र के बाहर दफनाने का प्रयास भी किया। गुरुवार को मंत्री इमरती देवी, कलेक्टर अनुराग चौधरी आदि मौके पर पहुंचे। इस दौरान कलेक्टर ने एसडीएम को जांच करने के निर्देश दिए और शुक्रवार को रिपोर्ट देने को कहा। पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।


ग्राम समूदन में हाईवे किनारे शासकीय मिडिल स्कूल है। इसी स्कूल परिसर में पटवारियों के बैठने के लिए बने भवन के दो कक्षों में कुछ ग्रामीणों ने 17 गायों को बंद कर दिया था, क्योंकि यह गायें उनकी खेतों में तैयार खड़ी धान की फसल को उजाड़ रही थीं। बुधवार को रात के अंधेरे में कुछ लोग इन मृत गायों को जेसीबी से गड्ढा खोदकर दफना रहे थे। इसकी सूचना जैसे ही गो सेवकों को लगी तो उन्होंने मौके पर पहुंचकर हंगामा किया और हाईवे पर ट्रैफिक जाम कर दिया। देर रात अज्ञात के खिलाफ डबरा सिटी थाने में गो वध प्रतिषेध अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया गया। गुरुवार को मामले की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर, एसपी सहित प्रशासन व पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे।

इसी दौरान मंत्री इमरती देवी सुमन भी पहुंच गई और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही। वहीं एसडीएम ने जनपद पंचायत, पीडब्ल्यूडी, महिला एवं बाल विकास विभाग, जिला शिक्षा अधिकारी को नोटिस जारी कर जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

निश्चित रूप से कड़ी कार्रवाई करेंगे
कलेक्टरअनुराग चौधरी ने कहा किसमूदन में गायों की मौत की घटना अमानवीय है। इस मामले में जो भी जिम्मेदार हैं और जिनके द्वारा लापरवाही बरती गई है, उनके खिलाफ निश्चित ही कड़ी कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम द्वारा जांच की जा रही है।

दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए
स्थानीय विधायक और मंत्रीइमरती देवी सुमन ने कहा कि गोवंश की इस प्रकार से मौत होना वाकई बहुत गंभीर बात है। दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए ताकि आगे कोई भी इस प्रकार का कृत्य नहीं करें।

मुख्यमंत्री के ट्वीट के बाद हुई कार्रवाई
घटना पर दोपहर में सीएम कमलनाथ ने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा- ग्वालियर के डबरा के समूदन में 17 गायों की मृत्यु की खबर बेहद दुखद है। निष्पक्ष जांच के निर्देश दिए हैं। हम गो माता की रक्षा और संवर्धन के लिए निरंतर प्रयासरत और वचनबद्ध हैं। ऐसी घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जा सकती हैं। इस ट्वीट के बाद रात में कलेक्टर-एसपी सहित अधिकारी मौके पर पहुंचे